चैंपियंस ट्रॉफी फाइनल : पाकिस्तान से 180 रनों से हारा भारत

0
391
LONDON, ENGLAND - JUNE 18: Fakhar Zaman of Pakistan hits out while wicket keeper MS Dhoni of India looks on during the ICC Champions Trophy Final match between India and Pakistan at The Kia Oval on June 18, 2017 in London, England. (Photo by Charlie Crowhurst/Getty Images)

चैंपियंस ट्रॉफी के फाइनल मुकाबला में टीम इंडिया को पाकिस्तान ने 180 रन से करारी मात देते हुए पहली बार इस खिताब पर कब्जा कर लिया पहले बल्लेबाजी करते हुए पाकिस्तान की टीम ने 50 ओवर में 4 विकेट गवां कर 338 रन बनाए और टीम इंडिया को जीत के लिए 339 रनों का लक्ष्य दिया. पाकिस्तान की ओर से फखर जमां ने 114 और मोहम्मद हाफिज ने 57 रनों की पारी खेली.

जडेजा की गलती पड़ी भारी 
मैच में भारत की ओर से लगातार गिरते विकेटों के बीच हार्दिक पंड्या ने शानदार फिफ्टी लगाई. उन्होंने केवल 32 बॉल पर अपने 50 रन पूरे किए. जिसमें उन्होंने 3 चौके और 4 छक्के भी लगाए.पंड्या ने 23वें ओवर में शादाब खान की बॉल पर लगातार 3 सिक्स लगाते हुए फिफ्टी पूरी की. इस ओवर में एक चौका और तीन सिक्स समेत कुल 23 रन बने. हार्दिक के वनडे करियर की ये दूसरी हाफ सेन्चुरी रही. हार्दिक पंड्या को 26.3 ओवर में रवींद्र जडेजा ने रन आउट करा दिया.

भारत के विकेट्स 
भारत की शुरुआत बेहद खराब रही और पहले ही ओवर में रोहित शर्मा (0) आउट हो गए. उन्हें मोहम्मद आमिर ने उन्हें एलबीडब्लू कर दिया. उस वक्त तक भारत का खाता भी नहीं खुला था. दूसरा विकेट भी जल्द ही गिर गया, जब 2.4 ओवर में आमिर की बॉल पर विराट कोहली (5) को शादाब खान ने कैच कर लिया. उस वक्त टीम का स्कोर केवल 6 रन था.शिखर धवन (21) आउट होने वाले तीसरे प्लेयर रहे. 8.6 ओवर में आमिर की बॉल पर सरफराज अहमद ने शिखर को कैच कर लिया.

इसके बाद 4 बॉल के अंदर युवराज और धोनी आउट हो गए. चौथा विकेट युवराज सिंह (22) का रहा. 12.6 ओवर में शादाब खान ने उन्हें एलबीडब्लू कर दिया. अगले ही ओवर की तीसरी बॉल पर एमएस धोनी (4) भी आउट हो गए. हसन अली की बॉल पर इमाद वसीम ने उन्हें कैच कर लिया.छठा विकेट केदार जाधव (9) का रहा. 16.6 ओवर में उन्हें शादाब खान की बॉल पर सरफराज अहमद ने कैच कर लिया. बेहतरीन बैटिंग कर रहे हार्दिक पंड्या (76) के रूप में भारत का सातवां विकेट गिरा. उन्हें 26.3 ओवर में रवींद्र जडेजा ने रन आउट करा दिया.

इससे पहले कप्तान विराट कोहली ने टॉस जीतकर पहले गेंदबाजी करने का फैसला किया है और पाकिस्तान की टीम को बल्लेबाजी का न्योता दिया है.
– अजहर अली ने पिछले मैच में भी भारत के खिलाफ 50 रन बनाए थे।
– वह भारत के खिलाफ चौथा मैच खेल रहे हैं।
– फखर आजम करियर का चौथा वनडे खेल रहे हैं जबकि भारत के खिलाफ पहला।
– फखर ने करियर का पहला शतक जड़ा, बुमराह की नो बॉल गेंद टीम इंडिया के लिए भारी पड़ी।

भारत आज के मैच को जीत कर चैंपियंस ट्रॉफी को एक बार फिर अपने पास रखना चाहेगा। बता दें कि मौजूदा विजेता भारत चौथी बार टूर्नामेंट के फाइनल में पहुंचा है और उसने दो बार इस खिताब को जीता है। भारतीय टीम ने पहली बार 2002 में श्रीलंका के साथ संयुक्त रूप से इस खिताब पर कब्जा जमाया था।

पाकिस्तान की टीम पहली बार टूर्नामेंट के फाइनल में पहुंची है। पाकिस्तान की टीम में तेज गेंदबाज मोहम्मद आमिर की वापसी हुई है। उन्हें रुमान रईस के स्थान पर प्लेइंग इलेवन में जगह मिली है। लंदन में मौसम साफ है और फिलहाल बारिश की कोई आशंका नहीं व्यक्त की गई है।
चाहे बात फॉर्म की, आईसीसी रैंकिंग हो या फिर बुकी की पसंद। हर क्षेत्र में कोहली की कंपनी सरफराज की सेना से बेहतर है। लेकिन इतिहास को देखकर पाकिस्तान को हल्के में लेना भी कोहली एंड कंपनी को भारी पड़ सकता है। क्योंकि भारत से हार के बाद पाकिस्तान ने अपने खेल में जबर्दस्त सुधार किया और लगातार तीन मैच जीते। वहीं कोहली एंड कंपनी ने भी अपने दमदार परफॉर्मेंस से सबका दिल जीत लिया है। चैंपियंस ट्रॉफी में दोनों टीमों के बीच हुए चार मुकाबलों में दोनों ही टीमों ने 2-2 मैच जीते हैं।

दोनों टीमें इस प्रकार हैं:

इंडिया- विराट कोहली (कप्तान), रोहित शर्मा, शिखर धवन, युवराज सिंह, एमएम धौनी, केदार जाधव, हार्दिक पांड्या, रविंद्र जडेजा, रविचंद्रन अश्विन, भुवनेश्वर कुमार और जसप्रीत बूमराह
पाकिस्तान- सरफराज अहमद (कप्तान), अजहर अली, फखर जमां, बाबर आजम, मोहम्मद हफीज, शोएब मलिक, इमाद वसीम, हसन अली, मोहम्मद आमिर, जुनैद खान और शादाब खान