किसानों के मुद्दे पर विपक्ष का लोकसभा में हंगामा

0
402

मानसून सत्र के तीसरे दिन किसानों के मुद्दे पर राज्यसभा में विपक्ष के सांसदों ने जमकर हंगामा किया . कांग्रेस की तरफ से मध्यप्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री और राज्यसभा सांसद दिग्विजय सिंह ने किसानों का मुद्दा उठाया. उन्होंने सरकार को घेरते हुए कहा कि किसानों को कीमत मिलने की जगह गोलियां दी जा रही हैं.

-पी चिदंबरम ने कहा, सिविलियन और फोर्स के बीच विवाद में कई घायल हुए हैं. जबकि सरकार कह रही है कि जम्मू और कश्मीर में स्थिति बेहतर हुई है. इस तरह के दावे विश्वास और कॉमन सेंस को चुनौती देते हैं.

-सपा सांसद नरेश अग्रवाल ने कहा, हमारी सेलरी हमारे सचिवों से कम है. इसे बढ़ाई जाए.

-लोकसभा दोपहर 12 बजे तक स्थगित.

बता दें कि मध्यप्रदेश में किसानों ने अपनी मांगों को लेकर कई दिनों तक प्रदर्शन किया था. इस दौरान पुलिस फायरिंग में छह किसानों की मौत हो गई थी. इसके बाद से वहां मामला काफी गर्म हो गया था. कांग्रेस ने जहां सरकार पर आरोप लगाया था, वहीं बीजेपी ने इस कांग्रेस की साजिश करार दी थी.

दूसरे दिन भी हुआ था हंगामा
मानसून सत्र के दूसरे दिन मंगलवार को भी राज्यसभा में काफी हंगामा हुआ. बसपा सुप्रीमो मायावती ने सहारनपुर हिंसा सहित दलितों के दूसरे मुद्दों को उठाया. लेकिन समय के अभाव के कारण सभापति ने उन्हें बैठने के लिए बोल दिया. इससे नाराज मायावती ने इस्तीफे की धमकी दी और बाद में इस्तीफा भी दे दिया.

मोब लिंचिंग और किसानों के मुद्दे पर कांग्रेस सख्त
बुधवार की सुबह ही कांग्रेस ने मोब लिंचिंग और किसानों के मुद्दे पर सदन में चर्चा की बात कही थी. कांग्रेस का आरोप है कि सरकार इन मुद्दों पर ध्यान हीं दे रही है, जिससे इस तरह की घटनाएं बढ़ती जा रही हैं. किसान आत्महत्या कर रहे हैं, लेकिन उनकी कोई सुनने वाला नहीं है.