PM मोदी का गुजरात में जबरदस्त स्वागत, रोड शो में उमड़ा जनसैलाब

0
395

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रविवार को पटेल समुदाय के गढ़ में 11 किलोमीटर का रोड शो किया और इस दौरान उनका भव्य स्वागत हुआ . उनके रोड शो में जनसैलाब उमड़ पड़ा . बीजेपी ने 2017 के अंत में गुजरात में होने वाले विधानसभा चुनावों के दौरान मोदी को चेहरे के रूप में पेश करेगी .
मोदी ने रविवार शाम आने के बाद रोडशो के साथ अपने दो दिवसीय गुजरात दौरे की शुरुआत की. वर्ष 2014 में प्रधानमंत्री बनने के बाद सूरत में उनका यह पहला दौरा था . रोडशो के दौरान किनारे खड़े लोगों के हांथों में तिरंगा लहरा रहा था और मुँह से ‘भारत माता की जय’ के नारे गूँज रहे थे . PM मोदी भी खुली वाहन में खड़े होकर उनका अभिवादन कर रहे थे .
गुजरात के मुख्यमंत्री विजय रूपानी ने अगवानी की

सूरत हवाई अड्डे पर उनके आगमन पर मुख्यमंत्री विजय रूपानी और गुजरात के अन्य नेताओं ने उनकी अगवानी किया . उत्तर प्रदेश सहित राज्य विधानसभा चुनावों में पार्टी के शानदार प्रदर्शन के बाद गृह राज्य के उनके पहले दौरे को देखते हुए मोदी के जबरदस्त स्वागत के लिए गुजरात बीजेपी ने कोई कसर बाकी नहीं छोड़ी थी .

एक तरह से देखें तो सूरत में पटेल समुदाय की अच्छी खासी तादाद है और 2015 में आरक्षण आंदोलन के दौरान यहां बड़े पैमाने पर हिंसा हुयी थी. विभिन्न समुदाय के संगठनों, युवाओं और महिलाओं ने हरेक 200 मीटर की दूरी पर ‘स्वागत स्थल’ के जरिए प्रधानमंत्री का स्वागत किया. मार्ग के बगल में सरकार के कार्यक्रमों के नामों के साथ 11 किलोमीटर लंबी साड़ी बांधी गयी .

मोदी के काफिले में 50,000 युवा पुरुष और महिलाएं 25000 बाइकों पर सवार थे. हवाईअड्डे के निकट मोदी का 22 फुट ऊंचा कटआउट बनाया गया था जहां लोगों ने सेल्फी ली.

रोड-शो के ताजा अपडेट्स

-पीएम मोदी का यह रोड शो करीब तीन घंटे तक चला. उसके बाद पीएम मोदी सूरत के सर्किट हाउस पहुंचे

-इस रोड शो में 90 महिला बाइकर्स भी शामिल थे .12 किलोमीटर लंबी साड़ी पर सरकार की योजनाओं का प्रदर्शन किया गया था .

-पीएम मोदी रोड-शो के लिए एयरपोर्ट से बाहर आये . पीएम खुली जीप में सवार हुए और हाथ हिलाकर उन्होंने लोगों का अभिवादन किया

-मुस्लिम परिवार के लोग भी काफी संख्या में नजर आ रहे थे . लोगों की संख्या बढ़ती जा रही थी . पुलिस सुरक्षा का बंदोबस्त कर रही थी .

-लोगों में काफी उत्साह था , वे पीएम की एक झलक पाना चाहते थे . देशभक्ति के गाने बजाकर लोगों का उत्साह बढ़ाया जा रहा था .

-पीएम की एक झलक पाने के लिए भारी संख्या में लोग जुटे थे , सड़क के दोनों तरफ लाइटिंग की बेहतरीन व्यवस्था की गयी थी .