जम्मू-कश्मीर में 6 आतंकी हमले में 12 सुरक्षाकर्मी घायल, रेड अलर्ट

0
442

कश्मीर घाटी में लगातार तीसरे दिन आतंकियों द्वारा सीआरपीएफ जवानों के कैंप को निशाना बनाया गया है। आतंकियों द्वारा पुलवामा में मंगलवार शाम सीआरपीएफ की 180वीं बटालियन के कैंप पर हमला किया गया है। मंगलवार को कश्मीर में 5 घंटे के भीतर 6 बड़ी आतंकी वारदात हुई है।

आतंकियों द्वारा किए गए हमले के दौरान 9 जवानों के घायल होने की सूचना है जिनमें 3 की हालत गंभीर बताई जा रही है। जानकारी के मुताबिक आतंकी हमला पुलवामा जिले के त्राल में हुआ है। इस हमले के बाद से इस पूरे इलाके में हाई अलर्ट जारी कर दिया गया है।

इसके साथ ही आतंकियों द्वारा जिले के ही पदगमपोरा इलाके में भी ग्रेनेड हमला किया गया है। हालांकि अब तक पदगमपोरा में हुए इस हमले में किसी के घायल होने की खबर नहीं है। इसके अलावा पुलवामा में एक पुलिस स्टेशन पर भी ग्रेनेड फेंके जाने की खबरें हैं।

आतंकी हमलों के बाद से ही पुलवामा जिले में हाई अलर्ट घोषित कर दिया गया है। सुरक्षाबलों के जवानों द्वारा पूरे इलाके में गहन सर्च आपरेशन शुरू किए गए हैं।

सूत्रों का कहना है कि खुफिया जानकारी साझा की गई थी कि इफ्तार के बाद कई हमले होंगे. जम्मू-कश्मीर पुलिस ने सीआरपीएफ और सेना को हमलों की चेतावनी दी थी.

सबसे पहले पुलवामा जिले के त्राल में CRPF के शिविर पर ग्रेनेड से हमला किया गया. इस हमले में सीआरपीएफ के 10 जवान घायल हो गए. जिन्हें इलाज के लिए श्रीनगर के 92 बेस अस्पताल में ले जाया गया.

हमला साउथ कश्मीर के पुलवामा जिले के त्राल इलाके में हुआ. आतंकियों ने 180 बटालियन सीआरपीएफ कैंप पर ग्रेनेड फेंका. हमले के बाद इलाके को पूरी तरह से घेर लिया गया है. इस बीच आतंकी संगठन हिज्बुल मुजाहिद्दीन ने इस हमले की जिम्मेदारी ली है.

इसके बाद पुलवामा के अवंतिपुरा में भी सीआरपीएफ कैंप पर हमला हुआ. इसके अलावा अनंतनाग में भी आतंकियों ने हाई कोर्ट जज गार्ड रूम पर भी हमला किया. यहां फायरिंग में 2 सुरक्षाकर्मी घायल हो गए और आतंकी 4 ऑटोमेटिक राइफलें छीन ले गए. इसके अलावा पुलवामा के पुलिस स्टेशन पर भी हमला हुआ है. इसके बाद उत्तरी कश्मीर के सोपोर में 22 राष्ट्रीय राइफल के सेना शिविर पर हमला किया गया.