#IPL10: मुंबई ने कोलकाता को 9 रनों से हराया

0
428

आईपीएल10 के 54 वें मुकाबले में मुंबई ने कोलकाता को 9 रनों से हराया इससे पहले मुंबई की टीम ने 173 रन बनाये थे जिसके जवाब में कोलकाता नाईट राइडर्स की टीम पूरी विकेट खोकर 164 रन ही बना सकी

केकेआर ने टॉस जीतकर मुंबई के खिलाफ पहले गेंदबाजी करने का फैसला किया। मुंबई की तरफ से ओपनिंग करने सौरभ तिवारी और लिंडल सिमंस उतरे। मुंबई को पहला झटका सिमंस के रूप में लगा। सिमंस ने 5 गेंदें खेली और बिना खाता खोले ट्रेंक का शिकार हो गए। कप्तान रोहित शर्मा ने टीम को खराब शुरुआत से उबारने में सौरभ का बखूबी साद दिया, लेकिन वह भी 21 गेंदों में 27 रन बनाकर पेवेलियन लौट गए। दूसरे विकेट के लिए रोहित और सौरभ के बीच 57 रनों की साझेदारी हुई।

मुंबई को तीसरा झटका सौरभ के तौर पर लगा। बेहतरीन बल्लेबाजी कर रहे सौरभ रन लेने की जल्दबाजी में अपना विकेट गंवा बैठे। सौरभ ने 41 गेंदों की पारी में 9 चौकों की मदद से 51 रन बनाए। सौरभ और रायडू के तीसरे विकेट के  लिए 61 रन जोड़कर मजबूती स्थिति में पहुंचाया। ताबड़तोड़ बल्लेबाजी कर रहे रायडू 19 ओवर में आउट हो गए। रायडू कुलदीप यादव की गेद पर स्टंप हो गए। पोलार्ड भी ज्यादा देर मैदान पर टिक नहीं सके और ट्रेंट बोल्ट की फुलटॉस गेंदों को बाउंडरी के बाहर पहुंचाने के चक्कर में आउट हो गए। गेंद बल्ले पर सही तरह नहीं और तीस गज के दायरे में यूसुफ पठान को कैद दे बैठे। क्रूणाल शून्य और हार्दिक पांड्या 1 रन बनाकर नाबाद रहे। मुंबई ने निर्धारित 20 ओवर में  5 विकेट के नुकसान पर 173 रन बनाए ।

गौतम गंभीर की कप्तानी वाली कोलकाता नाइटराइडर्स की टीम शीर्ष दो में बने रहने के लिए शनिवार को मुंबई इंडियंस को हराने का लक्ष्य लेकर उतरेगी। मुंबई की टीम पहले ही प्लेऑफ में प्रवेश कर चुकी है लेकिन उसे पिछले दो मैचों में हार का सामना करना पड़ा है।

केकेआर की टीम भी पिछले चार में से तीन मुकाबलों में पराजित हुई है। ईडन गार्डन पर होने वाले इस मुकाबले में मुंबई को हार से ज्यादा फर्क नहीं पड़ेगा लेकिन केकेआर जीत के साथ अपने अंक 18 करना चाहेगी क्योंकि दूसरे स्थान के लिए अन्य टीमों के साथ उसकी होड़ लगी है।

शीर्ष दो टीमों रहने का फायदा है कि फाइनल में जगह बनाने के लिए दो मौके मिलेंगे। आंकड़ों की बात करें तो मुंबई का पलड़ा केकेआर पर भारी है। मुंबई के खिलाफ उसका ओवरऑल जीत-हार का रिकॉर्ड 5-14 का है और जीत का प्रतिशत भी कम (26.31) है। प्लेऑफ के लिए कोलकाता का जिन टीमों से मुकाबला चल रहा है उसमें उनका नेट रनरेट (+0.729) सर्वाधिक है लेकिन फिर भी अंतिम चार टीमों में बने रहने के किसी किंतु-परंतु से बचना चाहेगी।

केकेआर की बल्लेबाजी कुछ मैचों से उतना बेहतर नहीं कर पाई जितना शुरुआत में करने में सफल रही है। सुनील नारायण का ओपनिंग पर आना केकेआर के लिए बड़ा मजबूत पक्ष है लेकिन अक्सर देखा गया है कि टीम की बल्लेबाजी शीर्ष चार बल्लेबाजों पर निर्भर कर रही है। टीम के लिए यूसुफ पठान की खराब फॉर्म चिंता की बात है। टीम को फिनिशर की कमी खल रही है। मनीष पांडेय भी ज्यादा बेहतर नहीं कर पा रहे हैं। केकेआर की गेंदबाजी में सुनील नारायण, नाथन कूल्टर नाइल, उमेश यादव, कोलिन डी ग्रैंडहोम और क्रिस वोक्स और कुलदीप यादव हैं जिनके सामने मुंबई की मजबूत बल्लेबाजी को रोकने की बड़ी जिम्मेदारी होगी।

टीमें इस प्रकार हैं:

कोलकाता नाइट राइडर्स : गौतम गंभीर (कप्तान), सुनील नरेन, कुलदीप यादव, मनीष पांडे, सूर्यकुमार यादव, पीयूष चावला, रॉबिन उथप्पा, यूसुफ पठान, शेल्डन जैक्सन, अंकित सिंह राजपूत, ट्रेंट बाउल्ट, क्रिस वोक्स, ऋषि धवन, नाथन कल्टर नाइल, रोवमान पावेल, आर. संजय यादव, इशांक जग्गी, डारेन ब्रावो, सायन घोष और कोलिन डी ग्रांडहोमे.

मुंबई इंडियंस : रोहित शर्मा (कप्तान), जसप्रीत बुमराह, श्रेयस गोपाल, कृष्णप्पा गौतम, असेला गुणारत्ने, हरभजन सिंह, मिशेल जॉनसन, कुलवंत खेजरोलियास, सिद्धेश लाड, मिशेल मैक्लेघन, लसिथ मलिंगा, हार्दिक पांड्या, पार्थिव पटेल (विकेटकीपर), केरन पोलार्ड, निकोलस पूरन, दीपक पुनिया, नीतीश राणा, जितेश शर्मा, कर्ण शर्मा, लेंडल सिमंस, टिम साउदी, जगदीश सुचिता, सौरभ तिवारी और आर. विनय कुमार.