सोशल मीडिया पर नीतीश का फोटो हुआ वायरल, कौन है वो ?

0
2428

पटना : सोशल मीडिया पर नीतीश कुमार का आजकल एक फोटो वायरल हो रहा है , जिसे देख कर लोग पूछ रहे हैं कौन है वो ? बिहार की राजनीति इतनी ओछी हो गई है जिसकी तुलना हम नहीं कर सकते हैं, क्योंकि बिहार की राजनीति में कब किस को बदनाम कर दिया जाए यह कहना मुश्किल हो गया है, कुछ दिन लगभग दो-तीन दिनों से यही तस्वीरें लगातार चल रही है कभी तेजस्वी मुख्यमंत्री पर आरोप लगाते हैं तो  कभी जदयू के प्रवक्ता तेजस्वी यादव पर !

यह विवाद सबसे पहले शुरू हुआ था नीतीश कुमार के साथ शराब माफियाओं के फोटो से, शराब माफियाओं की फोटो से शुरू हुआ विवाद तेजस्वी यादव के लड़की के साथ फोटो और उसके बाद फिर तेजस्वी यादव के ब्लड सैंपल टेस्ट कराने की बात तक जा पहुंची ,   तेजस्वी यादव भी दुसरे से पीछे कैसे रहते, उन्होंने कहा भी उपासना और अर्चना एक्सप्रेस तक बोल डाला  उन्होंने पूछ डाला क्यों चलाई गई ये ट्रेने , दरअसल जब नीतीश कुमार रेल मंत्री थे तो उपासना और अर्चना एक्सप्रेस नाम के दो ट्रेन चलवाए थे वो भी रेल मंत्रालय के बगैर अनुमति के,  तेजस्वी ने कहा कि कौन है अर्चना आखिर देश के लिए क्या की है यह भी बताना चाहिए नीतीश कुमार को अर्चना और उपासना कौन है किनके नाम पर चलाई थी ट्रेन !

ये विवाद अभी ख़त्म नहीं हुआ था कि आज एक नया फोटो वायरल हो रहा है सोशल मीडिया पर लोग पूछ रहे हैं नीतीश कुमार के साथ यह औरत कौन हैं और इस तरह से सेल्फी जो ले रहे हैं आखिर मुख्यमंत्री के साथ इतने करीब से सेल्फी लेने वाले इस औरत का नीतीश कुमार से संबंध क्या है ? सोशल मीडिया पर लंबी बहस जारी है  ,

गौरतलब है कि सोशल मीडिया जहां से हर लोग बहुत आसानी से बहुत कम समय में हर खबर से रूबरू होते हैं, अगर सोशल मीडिया को ही देश और राज्य के नेता को बदनाम करने के लिए उपयोग में लिया जाने लगेगा तो आज नहीं तो कल सोशल मीडिया पर भी लोग का भरोशा उठ जाएगा ,

बिहार में शराबबंदी लागू है लेकिन नीतीश कुमार के साथ शराब माफियाओं का फोटो वायरल किया गया उस में आरजेडी समर्थकों की हाथ रही होगी ,उसके बाद आरजेडी प्रमुख लालू प्रसाद यादव के छोटे बेटे और बिहार के पूर्व उपमुख्यमंत्री तेजस्वी यादव का फोटो किसी लड़की के साथ वायरल कर दिया गया, लड़की का फोटो वायरल होते हुए तेजस्वी यादव ने सफाई दिया कि इस लड़की को मैं नहीं जानता हूं जब मैं क्रिकेट खेलता था उस टाइम फैन फोटो लेने आते थे उसी समय का कोई फोटो हो सकता है,  उसके बाद जदयू प्रवक्ता और पार्टी की ओर से तेजस्वी यादव के ब्लड टेस्ट कराने की बात कही गई,  सच क्या है ये तो जदयू के प्रवक्ता या कोई नेता ही बता सकता है , लेकिन लगातार हो रही आलोचनाओं के बीच नीतीश कुमार भी आ जा रहे हैं , यह बिहार के लिए दुर्भाग्य है कि कोई मुख्यमंत्री लगातार आलोचनाओं के बीच आता है ,  क्योंकि नीतीश कुमार का छवि एक सुशासन बाबू का है और ऐसे में सुशासन बाबू को बार बार किसी भी मुद्दे पर आना पार्टी और सरकार के लिए अच्छा संकेत नहीं है