शेख हसीना को PM मोदी ने प्रोटोकोल तोड़ एयरपोर्ट पहुंचकर किया स्वागत

0
805
-- Advertisements --

नई दिल्ली : बांग्लादेश की PM शेख हसीना अपने चार दिनों के भारत दौरे पर नई दिल्ली पहुंच गई हैं. हसीना सात साल के लम्बे अंतराल के बाद भारत आयी हैं उनकी अगवानी के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी खुद इंदिरा गांधी अंतरराष्ट्रीय एयरपोर्ट पहुंचे.

खास बात यह है कि पीएम मोदी ने प्रोटोकोल तोड़कर अपनी बांग्लादेशी PM हसीना का स्वागत करने पहुंचे. सूत्रों ने बताया कि बांग्लादेश के पीएम हसीना की आगवानी करने इंदिरा गांधी अंतरराष्ट्रीय एयरपोर्ट जाने के दौरान मोदी ने आम नागरिक की तरह सामान्य ट्रैफिक का इस्तेमाल किया.

भारत बांग्लादेश को 50 करोड़ डॉलर का कर्ज देगा

शेख हसीना सात साल के बाद भारत के दौरे पर आई हैं. बांग्लादेश के PM के रूप में शेख हसीना का मौजूदा कार्यकाल के दौरान भारत का पहला द्विपक्षीय दौरा है. शनिवार को मोदी और हसीना के बीच बिस्तार में चर्चा होगी. इसमें भारत बांग्लादेश को सैन्य आपूर्ति के लिए 50 करोड़ डॉलर का कर्ज देने की भी घोषणा करेगा.

25 समझौतों पर होंगे हस्ताक्षर

भारत और बांग्लादेश के बीच असैन्य परमाणु सहयोग और रक्षा सहयोग समेत कम से कम 25 द्विपक्षीय समझौतों पर हस्ताक्षर होने की उम्मीद जताई जा रही है. इससे पहले दोनों देशों की ओर से जारी संयुक्त बयान में कहा गया कि शेख हसीना के भारत दौरे से दोनों देशों के बीच संबंध प्रगाह होंगे. इसके साथ ही दोनों देशों के नेताओं के बीच आपसी सौहर्द और विश्वास मजबूत होगा.

तीस्ता जल समझौते होने की उम्मीद कम
तीस्ता जल समझौता होने की उम्मीद कम है क्योंकि , पश्चिम बंगाल की CM ममता बनर्जी इसके विरोध में हैं. ऐसे में मोदी सरकार ममता बनर्जी को शामिल किए बगैर समझौते पर आगे नहीं बढ़ेगी. लेकिन सूत्रों की मानें तो ममता बांग्लादेश की प्रधानमंत्री से मुलाकात कर सकती हैं. बांग्लादेश के लिए पानी की कमी के चलते तीस्ता का जल महत्वपूर्ण है. गर्मी के दौरान जल का प्रवाह एक हजार क्यूसेक से लेकर पांच हजार क्यूसेक से भी नीचे चला जाता है.

राष्ट्रपति प्रणब और सोनिया गांधी से करेंगी मुलाकात
भारत दौरे पर पहुंचीं बांग्लादेश के प्रधानमन्त्री हसीना भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के अलावा राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी और कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी से भी मुलाकात करेंगी. बाद में रविवार को उनका कार्यक्रम अजमेर जाने का है, सोमवार को भारतीय कारोबारी नेताओं से मुलाकात करेंगी. तथा मानेकशॉ सेंटर में आयोजित होने वाले भारतीय सैन्यकर्मियों के सम्मान जिसमे बांग्लादेश मुक्ति संग्राह में शहीद हुए हुए सैन्यकर्मियों को सम्मानित किया जाएगा इस समारोह में भी हिस्सा लेने की सम्भावना है

 

-- Advertisements --