दिल्ली में कंटेनर से लीक हुई गैस, 173 बच्चे और 9 लोग अस्पताल में

0
521

दिल्ली के तुगलकाबाद में एक कंटेनर में गैस रिसाव का मामला सामने आ रहा है. जानकारी के मुताबिक करीब 59 स्टूडेंट्स की तबियत बिगड़ने के बाद अस्पताल में एडमिट कराया गया है. कुछ रिपोर्ट्स में अस्पताल में एडमिट छात्रों की संख्या 100 से ज्यादा बताई जा रही है. रानी झांसी सर्वोदय कन्या विद्यालय की वाइस प्रिंसिपल ने बताया कि गैस लीक के बाद विद्यार्थियों ने आंख और गले में जलन की शिकायत की. इसके बाद करीब 50 से 60 बच्चों को अस्पताल में भर्ती कराया गया है. उन्होंने बताया कि अब सभी बच्चे खतरे से बाहर हैं. वहीं, डीसीपी रोमिल बनिया ने बताया कि तुगलकाबाद डिपो के कस्टम एरिया से कुछ केमिकल लीकेज हुआ, जिसकी चपेट में आने से नजदीक के स्कूल की छात्राओं ने आंख में जलन की शिकायत की.घटना के समय छात्राएं कक्षाओं में पढ़ रही थीं.

उन्होंने बताया कि गैस लीक होने की सूचना मिलने के फौरन बाद स्थानीय पुलिस, पीसीआर, एनडीआरएफ, फायर ब्रिगेड और एंबुलेंस की टीमें घटनास्थल पर पहुंच गईं. उन्होंने बताया कि छात्राओं को आसपास के अस्पतालों में भर्ती कराया गया है. सभी छात्राएं खतरे से बाहर हैं.

मामला शनिवार सुबह का है. डिप्टी सीएम मनीष सिसौदिया ने गैस लीकेज मामले की जांच कराने की बात कही है. जिस कंटेनर से गैस लीक हुआ वह हेमा लॉजिस्टिक का बताया जा रहा है. लीकेज के बाद करीब 1 किलोमीटर के इलाके को पुलिस ने एहतियातन बंद कर दिया है.

पुलिस को कॉल मिली थी 
मीडिया सूत्रों के मुताबिक तुगलकाबाद में पुलिस को कॉल मिली कि रानी झांसी स्कूल के पास रिसाव हुआ है. कई बच्चे बेहोश हुए हैं. पुलिस के मुताबिक केमिकल हवा में उड़ रहा है. कैट्स एम्बुलेंस, दमकल और पुलिस टीम मौक पर मौजूद है.

दो स्कूलों में छुट्टी
तुगलकाबाद के पास रेलवे कॉलोनी के स्कूल के पास सुबह से ही लोगों को आंखों में जलन महसूस हो रही थी. आसपास के दो स्कूल में छुट्टी कर दी गई है. तीन दर्जन से ज्यादा बच्चों को अस्पताल ले जाया गया है.

दिल्ली की फोरेंसिक टीम मौके पर है. मामले की जांच की जा रही है.

डिप्टी सीएम ने ली जानकारी
डिप्टी सीएम और शिक्षा मंत्री मनीष सिसौदिया ने एजुकेशन डिपार्टमेंट के अधिकारियों से बात कर हादसे की जानकारी ली है. वे तुगलकाबाद जा सकते हैं.