राजनीति के पलटूराम हैं नीतीश कुमार : लालू

0
470

पटना: राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद ने नीतीश कुमार को राजनीति का पलटूराम कहा है। लालू प्रसाद ने कहा कि नीतीश कुमार तेजस्वी की लोकप्रियता से डर गए हैं। पटना में आयोजित एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में लालू ने नीतीश कुमार पर जमकर हमला बोला। लालू ने कहा कि आई एम सीनियर टू हिम, मैं उनसे सीनियर हूं वो कहते हैं कि लालू को नेता हमने बनाया.. थोड़ा भी शर्म नहीं है। लोग जानते हैं कि छात्र आंदोलन में नीतीश का पता नहीं था। नीतीश कुमार को मैंने आगे बढ़ाने का काम किया।

लालू ने कहा कि छात्र आंदोलन के दौरान गांधी मैदान में पहली बैठक मेरी अध्यक्षता में हुई। जेपी को लोकनायक की उपाधि से हमलोगों ने सम्मानित किया। कल नीतीश बोल रहे थे कि वे इंजीनियरिंग कॉलेज के छात्र थे और लालू को हमने वोट दिलवाया। जो पुराने लोग हैं सब जानते हैं। सारे छात्रों ने मुझे वोट दिया। पटना मगध महिला कॉलेज में किसी को वोट मांगने के लिए अंदर जाने की इजाजत नहीं थी लेकिन मैं अकेला जाकर वोट मांगता था, पोस्टर लगाता था, बहनों ने मुझे वोट दिया। 1970-71 के सत्र में मैं महासचिव निर्वाचित हुआ। छात्र संघ के स्टीयरिंग कमेटी में नीतीश कुमार का अतापता नहीं था। शिवानंद तिवारी को जब जेल जाना पड़ा तब नीतीश कुमार को नॉमिनी बनाया। मैंने जगदीश शर्मा को नॉमिनी बनाया। मेरी लोकप्रियता इतनी थी कि छात्र संघर्ष संचालन समिति को भंग कर दिया गया।

सुशील मोदी हॉफ पैंट पहन कर घूमते थे..मुझे जेपी ने छात्र संघर्ष संचालन समिति का संयोजक बनाय गया। सुशील मोदी और रविशंकर सबने साजिश किया कि लालू को क्यों संयोजक बनाया गया। जयप्रकाश जी के पास इन लोगों ने आपत्ति जताई थी। लेकिन जयप्रकाश जी ने इन लोगों को घर से बाहर निकाल दिया। छात्र आंदोलन में इनका पता नहीं था लेकिन अब अणे मार्ग में बैठकर नीतीश कुमार नरेंद्र मोदी का जय-जयकार कर प्रेस कॉन्फ्रेंस कर रहे हैं।