बिहार सरकार के 35 विभाग में भ्रष्टाचारियों का अड्डा , शिक्षा विभाग टॉप पर

0
582

बिहार के सरकार सुशासन का दम्भ भरती है लेकिन राज्य में सुशासन के लाख दावों के बावजूद सरकारी कार्यालयों में घूसखोरी और भ्रष्टाचार के मामलों में कमी नहीं आ रही है. हाल ही में मुख्य सचिव के स्तर पर निगरानी, आर्थिक अपराध इकाई, विशेष निगरानी इकाई की समीक्षा में चौंकाने वाले तथ्य उजागर हुए हैं .

राज्य सरकार के 44 विभागों में से 36 बिभाग ऐसे हैं जहाँ भ्रष्टाचारियों का जमावड़ा है , सिर्फ़ 9 विभाग ही ऐसे हैं जिनमें भ्रष्टाचार के कोई मामले दर्ज नहीं हुए हैं. सबसे रोचक तथ्य यह कि इस मामले में निगरानी विभाग में भी पांच केस पाये गए हैं. मुख्य सचिव की समीक्षा में 1 अप्रैल तक 33 विभागों में भ्रष्टाचार के मामले पकड़े गए हैं.

रिपोर्ट के अनुसार इसमें सबसे अधिक संख्या में घूस लेते पकड़े गए कर्मचारियों में शिक्षा विभाग के शामिल हैं. शिक्षा विभाग में सबसे ज्यादा 70 घूसखोर शामिल हैं. उर्जा विभाग में 1 अप्रैल तक कुल 53 मामले आये हैं इनमें 34 मामले घूस लेते और रंगे हाथों पकड़े जाने के रिपोर्ट दर्ज हुए हैं .