आमन्त्रण देने के बाद भी जो नहीं आए उन्हें भी धन्यवाद – मुख्यमंत्री नितीश

0
629

पटना के श्री कृष्ण मेमोरियल हॉल में आयोजित स्वतंत्रता सेनानी समारोह को संबोधित करते हुए बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कहा कि मेरे लिए स्वतंत्रता सेनानियों को सम्मान करना गौरव की बात है और ये सौभाग्य बिहार को मिला है। उन्होेंने कहा कि महामहिम राष्ट्रपति जी ने कार्यक्रम में आकर बिहार का मान बढ़ाया है, मेैं और पूरा बिहार उनका अभिनंदन करता है ।
उन्होंने कहा कि हमने पूरे देश के सभी गणमान्य लोगों को आमंत्रित किया था, सभी लोग आए ये मेरे लिए और बिहार के लिए गौरव का क्षण है लेकिन जो लोग नहीं आए उनको भी मैं तहे दिल से धन्यवाद करता हूं। इस मंच पर सभी गणमान्य लोग उपस्थित हैं, खासकर जो स्वतंत्रता सेनानी यहां उपस्थित हैं, जो दूर से आए हैं मैं उन्हें नमन करता हूं।
मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कहा कि आज जो देश की स्थिति बनी हुई है उसमें गांधी जी के आदर्शों को अपनाने का, गांधी के विचारों को अात्मसात करने की सबसे ज्यादा जरूरत है और हमलोगों को गर्व होना चाहिए कि गांधी जी का बिहार से इस कदर जुड़ाव था कि चंपारण की धरती से ही उन्होेंने अपने सत्याग्रह की शुरूआत की। आज गांधी ने देश को आजादी ना दिलाई होती तो इतने बड़े लोकतंत्र की स्थापना नहीं हो पाती
उन्होेंने गृहमंत्री राजनाथ सिंह के समारोह में नहीं आने पर कटाक्ष करते हुए कहा कि इसपर कम-से-कम राजनीति नहीं की जानी चाहिए। यह तो उनलोगों को सम्मान करने का समारोह है जिन्होंने देश की आजादी में अपनी महत्वपूर्ण भूमिका निभाई है।
नीतीश ने मीडिया पर भी कटाक्ष करते हुए कहा कि मैंने जो कहा कि ज्यादा बोलने से गला सूखने लगता है वो मैंने मीडिया वालों के लिए नहीं अपने लिए कहा था। उन्होेंने कहा कि इस कार्यक्रम को लोगों तक पहुंचाएं, और इसे पहुंचाने में मिडिया की सबसे बड़ी भागीदारी होनी चाहिये !