क्या आपको पता है अंडा खाने के फायदे, नुकसान के बारे में

0
405

अंडा खाने के फायदे जानना चाहते हैं तो ये पोस्ट आपके लिए ही हैं. इस पोस्ट के माध्यम से हम आज आपको अंडा खाने के फायदे, अंडा खाने के नुकसान और अंडे को किस तरह खाना चाहिए? इन सभी के बारे में विस्तार से बताएँगे .

जो लोग शरीर का विकास चाहते हैं उन लोगों को कच्चे अंडे को दूध में मिला कर पीना चाहिए . अंडे में बहुत ज्यादा पोषक तत्व पाए जाते हैं, आप चाहे कच्चा अंडा खाए या पकाया हुआ अंडा खाए. एग सेफ्टी सेंटर की रिपोर्ट के अनुसार यदि आप कच्ची जर्दी (योक) खाते हैं, तो अंडे के बैक्टीरिया से दूषित होने की स्तिथि में आपके बीमार होने का ख़तरा बढ़ जाता हैं. दरअसल हमे क्या खाना चाहिए और किस तरह से खाना सही रहता हैं, इन सभी बातों का हमे पूरी जानकारी नही होती हैं, और हम वैसे ही खाना शुरू कर देते हैं, जैसे कोई हमे बता दे. इसलिए आज हम आपको बता रहे हैं की अंडे की जर्दी कच्ची खाना सही हैं या पकाई हुई.

1. कोलेस्टरॉल को कम करे

अंडे की जर्दी को कच्चा खाने की सिफारिश नही की जाती हैं, लेकिन इसे हल्का सा पकाया गया हो तो जर्दी में ज़्यादा पोषक तत्व की मौज़ूदगी बनी रहती हैं. साथ ही , ख़राब कोलेस्टरॉल भी इससे नही होता हैं.

2. कच्चा ना खाए योक

अंडे को कभी कच्चा ना खाए. इसे उबाल कर खाने से अंडे में मौज़ूद आयरन और बायोटिन की मात्रा भरपूर मिलती हैं. साथ ही बैक्टीरियल Salmonella के इन्फेक्शन का ख़तरा भी कम हो जाता हैं. अंडे को तल कर या फिर दूध में पका कर खाया जा सकता हैं.

3. बैक्टीरिया को नष्ट करे

जब आप अंडा पकाते हैं, तो जर्दी की बनावट और स्वाद में बदलाव आ जाता हैं. अलग-अलग लोग इसे अलग-अलग तरीके से बनाते हैं. वैसे अगर इसकी जर्दी को पका कर खाया जाए तो इसके भीतर मौज़ूद बैक्टीरिया मर जाते हैं.

4. बर्ड फ़्लू से बचाव

बर्ड फ़्लू के शिकार बर्ड से 10 दिनों तक इसके वायरस निकलते रहते हैं. ऐसे में सही प्रकार से मीट और अंडे को पका कर खाया जाए तो बर्ड फ़्लू होने का ख़तरा कम हो जाता हैं. W.H.O. के अनुसार चिकन और अंडा खाने में कोई ख़तरा नही हैं, बस इस बात का ध्यान रखा जाना चाहिए की इसे तेज़ आँच पर अच्छी तरह से पकाया गया हो. अंडो को उबालकर या फिर तेल में अच्छी तरह से तल कर खाना चाहिए.

5. Salmonella इन्फेक्शन से बचाव

दूषित भोजन खाने से 8 से 72 घंटो के भीतर मनुष्य में सॅल्मोनेला इन्फेक्शन की वजह से दस्त, पेट में दर्द के साथ बुखार हो जाता हैं. इसके अन्य लक्षण उल्टी, सीर दर्द और ठंड लगना भी हैं. यह इन्फेक्शन कच्चा अंडा खाने से हो सकता हैं. हालांकि यह लक्षण आमतौर पर 4 से 7 दिन में कम हो जाते हैं.

6. सेफ हैंडलिंग के टिप्स

यदि आप अंडो को फ्रीज़ में बहुत कम तापमान पर रखते हैं और उन्हे अच्छी तरह से पकाते हैं, तो बैक्टीरिया से बीमार होने का ख़तरा नही रह जाएगा. साथ ही इन्हे खरीदने से पहले अच्छी तरह से चेक करले की यह गंदे ना हो और साथ ही इनके साइज़ में कोई खराबी ना हो. इन्हे जितना जल्दी हो सके तो रेफ्रिजरेट करे. ऐसा करने से बैक्टीरिया का बढ़ना कम हो जाता हैं.

7. किन लोगो को अंडा नही खाना चाहिए.

वे लोग जिन्हे हाई ब्लड प्रेशर, डायबिटीज और हार्ट से रिलेटेड बीमारिया हो, उन्हे अंडे का पीला वाला हिस्सा (योक या जर्दी) किसी भी हालत (कच्चा या पक्का) नही खाना चाहिए. इसमे कोलेस्टरॉल बहुत अधिक मात्रा में होता हैं, जो हार्ट को नुकसान पहुचा सकता हैं.
अंडा खाने के फायदे :-

– अंडे को प्रोटीन, कैल्शियम और ओमेगा-3 का अच्छा सोर्स माना जाता हैं. यह सभी पोषक तत्व हमारे शरीर के लिए ज़रूरी होते हैं. प्रोटीन से हमारी मांसपेशिया मजबूत होती हैं. ओमेगा-3 से बॉडी में अच्छा कोलेस्टरॉल का निर्माण होता हैं. इसके अलावा कैल्शियम से दाँत और हड्डिया मजबूत बनती हैं.

-अंडे खाने से आपके शरीर को ज़रूरी अमीनो एसिड मिलता हैं, जिससे शरीर में स्टैमिना बढ़ता हैं.

-अंडे में विटामिन ए पाया जाता हैं. जो बालो को मजबूत बनाने के साथ आँखों की रोशिनी को बढ़ाता हैं.

-अंडे में मिलने वाला फॉलिक एसिड और विटामिन बी12 ब्रेस्ट कैंसर से बचाता हैं. विटामिन बी12 दिमाग़ को मजबूती देता हैं और याददाश्त को भी बढ़ाता हैं.

-अंडे की जर्दी में विटामिन डी होता हैं, जो हड्डियो को मजबूत बनाता हैं. साथ ही बॉडी की इम्यूनिटी पावर को भी बढ़ाता हैं.

○ गर्भवती महिला को अपने खाने में अंडे को ज़रूर शामिल करना चाहिए. यह भ्रूण के विकसित होने में मदद करता हैं.

-वजन को लेकर चिंतित रहने वाले लोगो को अंडे का सफेद हिस्सा ही खाना चाहिए, इसमें फैट नही होता हैं.
अंडा खाने के नुकसान

-अंडा खाने से पहले यह चेक करले की वह ठीक तरह से पकाया गया हो, क्योंकि अध पके अंडे से सॅल्मोनेला इन्फेक्शन का ख़तरा रहता हैं. अंडे को ठीक तरह से नही पकने पर इससे सूजन, उल्टी और पेट की कई प्रॉब्लम्स हो सकती हैं.

-अंडे का ज़्यादा सेवन करने वाले लोगो में कैंसर होने का डर रहता हैं. एक रिसर्च के अनुसार, हफ्ते में तीन से ज़्यादा अंडे खाने से प्रोटेस्ट कैंसर होने का ख़तरा बढ़ जाता हैं.

-जिन लोगो को हाई ब्लड प्रेशर, डायबिटीज और हार्ट से रिलेटेड बीमारिया हो, उन्हे अंडे का पीला वाला हिस्सा (योक या जर्दी) किसी भी हालत (कच्चा या पक्का) नही खाना चाहिए. इसमे कोलेस्टरॉल बहुत अधिक मात्रा में होता हैं, जो हार्ट को नुकसान पहुचा सकता हैं.

– बहुत अंडे खाने से लकवा, नपुंसकता, पैरों में दर्द और मोटापे की समस्या हो सकती हैं.