आयकर रिटर्न दाखिल करने का अंतिम दिन आज

0
917
-- Advertisements --

नई दिल्ली: वित्त वर्ष 2016-17 का आयकर रिटर्न दाखिल करने का आज अंतिम दिन है। एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा, आयकर रिटर्न दाखिल करने की अंतिम तिथि 31 जुलाई है। इसे बढ़ाने का प्रस्ताव नहीं है। विभाग के पास इलैक्ट्रॉनिक रूप में पहले ही 2 करोड़ से अधिक रिटर्न दाखिल किए जा चुके हैं। विभाग ने करदाताओं से समय पर रिटर्न दाखिल करने की अपील की है।

इनकम टैक्स डिपार्टमेंट ने आयकर सेतु ऐप लॉन्च किया है। इस ऐप के ज़रिए इनकम टैक्स भरा जा सकता है। इस ऐप की मदद से घर बैठे टैक्स का भुगतान, पैन कार्ड के लिए आवेदन, पैन को आधार से लिंक करना और TDS की जानकारी लेने जैसे काम भी किए जा सकते हैं। इस ऐप को गूगल प्ले स्टोर से डाउनलोड किया जा सकता है। इसके अलावा, इस ऐप के लिंक के लिए 7306525252 नंबर पर मिस्ड कॉल कर सकते हैं।

ऐसे भरे घर बैठे आयकर रिटर्न…

– आयकर सेतु ऐप में Tax Tools, Tax Payment और Live Chat जैसे ऑप्शन दिए गए हैं।
– पहला ऑप्शन ‘TRP at your doorstep’ है। इससे आसपास के उन TRP का पता लगा सकते हैं, जिनसे इनकम टैक्स भरने में मदद मिल सकती है। सिर्फ अपनी लोकेशन डालनी होगी।
– दूसरा ऑप्शन ‘Returns preparation Made Easy’ है, जो टैक्स रिटर्न फाइल करने की प्रक्रिया को समझने में मदद करता है।
– यदि आप ‘नहीं’ पर टैप करते हैं, तो यह आपको डाउनलोड फॉर्म, टैक्स का भुगतान, फॉर्म 26AS की जांच, टैक्स कैलकुलेट जैसे ऑप्शन आते हैं। अगर आपने अपना रिटर्न दाखिल कर दिया है और आप ‘हां’ पर टैप करते हैं, तो यह आपको रिफंड स्थिति, IT-V रिसीप स्टेटस, रिटर्न का ई-वेरिफाई और फाइल रिवाइज्ड रिर्टन जैसे ऑप्शन दिखाएगा।
– तीसरा ऑप्शन Tax Tools है, जहां हाउस रेंट अलाउंस कैलकुलेशन, टीडीएस और अडवांस टैक्स कैलकुलेशन की भी जानकारी पा सकते हैं।
– इसके बाद Got a Problem का ऑप्शन है, जिसमें पैन माइग्रेशन, टीडीएस का मिसमैच करना या अपनी रिफंड की स्थिति जानने को मिलती है।
– इसके साथ ही PAN/TAN खातों से जुड़ी जानकारी भी ले सकते हैं। यहां पूछा जाता है कि पहले से ही पैन कार्ड है या नहीं? अगर ‘हां’ पर टैप करते हैं, तो पैन कार्ड को फिर से इशू करने का ऑप्शन देता है, पैन कार्ड में सुधार करने का ऑप्शन, पैन सत्यापित करने या ड्युप्लिकेट कॉपी जमा कराने के भी ऑप्शन हैं।
– इसमें TDS/Traces का ऑप्शन भी है, जिसमें टैक्स कटौती के दायरे में आते हैं, तो आपको टीडीएस रिटर्न फाइल करने के लिए लिंक, टीडीएस दरों की जांच करने के लिए सभी संबंधित फॉर्म, ऑनलाइन सुधार करने या टीडीएस / टीसीएस को ई-पेमेंट करने के विकल्प मिलेंगे। संपत्ति की बिक्री और अन्य जानकारी के बारे में भी टीडीएस की गणना कर सकते हैं।
– Tax Payment का ऑप्शन आपको इस बात की जानकारी देता है कि टैक्स का पेमेंट कहां और कैसे करें? इसमें आपको ऑनलाइन और ऑफलाइन दोनों तरीकों के बारे में जानकारी देगा। इसके अलावा टैक्स कैलकुलेशन और टैक्स क्रेडिट मिसमैच के लिए अपने आईटीआर को सुधारने का ऑप्शन भी देता है।

-- Advertisements --